Monday, March 20, 2023

स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कृष्ट बोले- पिता ने मेरे या बहन के लिए नहीं मांगा टिकट, पार्टी तय करेगी चुनाव लडूंगा या नहीं

Must read

मोबाइल की लत बच्चों के लिए नुकसानदायक इसीलिए अभिभावक दे ध्यान, जाने उनकी दिनचर्या : सुशील वत्स

कोरोना ने हमारी जिंदगी को बदल दिया यह कहना तार्किक होगा। एक बड़ा बदलाव पूरी दुनिया में देखने को मिला। लोगों ने एक दूसरे...

रामनिवास सभापति व सुदेश देवी उपसभापति बने

बिनौली कृषक सेवा सहकारी समिति पदधिकारियों का चुनाव बिनौली: कृषक सेवा सहकारी समिति बिनौली के पदाधिकारियों के रविवार को हुए चुनाव में सभापति पद...

स्काउट-गाइड़ कार्यक्रम का समापन समारोह आयोजित

मेरठ। पं. दीनदयाल उपाध्याय मैनेजमेंट कॉलेज के बी.एड़. विभाग में गत एक सप्ताह से चल रहे स्काउट-गाइड़ कार्यक्रम के समापन समारोह का आयोजन किया...

बिजवाड़ा से रणवीर बने संचालक

विकास बड़गुर्जर, ब्यूरो चीफ बिनौली: कृषक सेवा सहकारी समिति बिनौली के संचालक मंडल का चुनाव शनिवार को कड़ी पुलिस सुरक्षा के बीच शांति पूर्वक संपन्न...
  • कानपुर देहात से बीजेपी विधायक भगवती सागर और तिलहर से बीजेपी विधायक रोशन लाल वर्मा और बांदा से बीजेपी बृजेश कुमार प्रजापति भी अपने इस्तीफे के बाद एसपी में जा सकते हैं। स्वामी प्रसाद मौर्या ने राज्यपाल को संबोधित त्याग पत्र के जरिए इस्तीफा दिया।

लखनऊ: स्वामी प्रसाद मौर्य के बीजेपी से इस्तीफा देने के बाद उनके परिवार की ओर से पहली प्रतिक्रिया सामने आई है। स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कृष्ट मौर्य अशोक ने कहा कि आज भी ऐसी कोई बात नहीं है कि मेरे पिता मेरे या मेरी बहन के लिए टिकट चाहते हैं। मेरे पिता और पार्टी तय करेंगे कि मुझे चुनाव लड़ना है या वे मुझे आगामी विधानसभा चुनावों के लिए एक पार्टी कार्यकर्ता के रूप में चाहते हैं।
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी को राज्य में समाजवादी पार्टी ने बड़ा झटका दिया है। राज्य के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने मंगलवार को एसपी का दामन थाम लिया है। राज्य में इस बात की अटकलें तेज हैं कि योगी सरकार के दो मंत्री भी इस्तीफा दे सकते हैं। वहीं तीन अन्य बीजेपी विधायकों ने पार्टी का दामन छोड़ दिया है। लखनऊ में चर्चा जोरों पर है कि आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी और कैबिनेट मंत्री दारा सिंह भी पार्टी को छोड़ सकते हैं।
इन विधायकों ने भी दिया इस्तीफा
जानकारी के अनुसार कानपुर देहात से बीजेपी विधायक भगवती सागर और तिलहर से बीजेपी विधायक रोशन लाल वर्मा और बांदा से बीजेपी बृजेश कुमार प्रजापति भी अपने इस्तीफे के बाद एसपी में जा सकते हैं और मंगलवार को उन्होंने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। स्वामी प्रसाद मौर्या ने राज्यपाल को संबोधित त्याग पत्र के जरिए इस्तीफा दिया।
अखिलेश यादव ने किया स्वागत
इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वामी प्रसाद मौर्य सपा में जाने के सवाल को टालते रहे। लेकिन सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की ओर से हुए एक ट्वीट से सबकुछ साफ हो गया। अखिलेश ने ट्वीट किया था सामाजिक न्याय और समता-समानता की लड़ाई लड़ने वाले लोकप्रिय नेता स्वामी प्रसाद मौर्या जी एवं उनके साथ आने वाले अन्य सभी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समर्थकों का सपा में ससम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन! सामाजिक न्याय का इंक़लाब होगा, बाइस में बदलाव होगा।
वहीं समाजवादी पार्टी में शामिल होने वाले स्वामी प्रसाद मौर्या ने दावा किया है कि राज्य में एक दर्जन से ज्यादा विधायक बीजेपी को छोड़ने की तैयारी में हैं और जल्द ही वह बीजेपी छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। वहीं राज्य के दो कैबिनेट मंत्रियों के भी बीजेपी को छोड़ने की चर्चा है।

Latest News