Saturday, September 16, 2023

ममता बनर्जी के घर चाकू-असलहा लेकर घुस रहा युवक गिरफ्तार, गाड़ी पर पुलिस का स्टीकर

Must read

यूनिजिफ के डा.सर्वपल्ली राधाकृष्णन राष्ट्रीय शिक्षाविद सम्मान 2023 समारोह में देशभर के शिक्षक होंगे शामिल

17 सितंबर को नोएडा में यूनिजिफ की ग्लोबल लीडर्स कांफ्रेंस में जुटेंगे देशभर के शिक्षाविद, शिक्षा के क्षेत्र में योगदान पर होंगे सम्मानित नोएडा।...

चौधरियान क्लब के तत्वाधान में आयोजित हुआ कबड्डी टूर्नामेंट

स्योहारा। क्षेत्र के सभी धार्मिक एवं समाजिक कार्यों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेने वाले भाजपा से जुड़े युवा नेता अदनान अकरम ने शुक्रवार को...

बिजली घर पर चल रहे धरने पर एसडीओ ने किसानों को दी धमकी, एसडीओ की धमकी से किसानों में उबाल

स्योहारा। बिजली घर पर चल रहे धरना के आठवें दिन भी चौधरी गजेंद्र सिंह टिकैत के नेतृत्व में जारी रहा। किसानों को संबोधित करते...

एसडीएम ने कंपोजिट विद्यालय प्राथमिक विद्यालयों का किया निरीक्षण

चांदपुर: उप जिलाधिकारी द्वारा दिन-प्रतिदिन विद्यालयों का निरीक्षण करती नजर आ रही है जिससे जनता में उप जिलाअधिकारी रितु रानी की प्रशंसा हो रही...

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की सुरक्षा में फिर सेंधमारी की कोशिश हुई है। कोलकाता पुलिस ने एक ऐसे शख्स को पकड़ा है, जो सीएम आवास में घुसने की कोशिश कर रहा था। इस युवक की तलाशी ली गई तो चाकू और असलहा बरामद हुआ है। युवक का नाम नूर आलम है। पुलिस ने बताया कि इस युवक को सीएम के आवास के पास रोका गया है। आरोपी आवास में घुसने की कोशिश कर रहा था।
आरोपी की तलाशी ली गई तो उसके कब्जे से एक असलहा, चाकू और प्रतिबंधित पदार्थ के अलावा विभिन्न एजेंसियों के आईडी कार्ड मिले हैं। आरोपी की कार में पुलिस का स्टीकर लगा था। इसी में सवार होकर वह सीएम आवास तक आया था। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। पुलिस का कहना है कि आरोपी युवक क्यों सीएम आवास में घुसना चाह रहा था, इसके बारे में पता किया जा रहा हैं।
पुलिस का कहना है कि आरोपी के मंसूबे के बारे में पता करेंगे। वह इससे पहले सीएम आवास और इलाके की रेकी तो नहीं कर रहा था, इस बारे में जानकारी की जा रही है। युवक के बारे में पूरी जानकारी के लिए एजेंसियों को लगाया गया है। हालांकि, अभी सीएम दफ्तर की तरफ से कोई बयान नहीं आया है। राज्य की पुलिस की तरफ से भी ऑफिशियल जानकारी का इंतजार किया जा रहा है।
सालभर पहले भी ममता के सरकारी आवास में सेंधमारी की कोशिश हुई थी। कोलकाता के कालीघाट स्थित सीएम के आवास में 3 जुलाई 2022 की रात करीब एक बजे संदिग्ध व्यक्ति घुस आया था। हालांकि उसे देखते ही सुरक्षाकर्मियों ने पकड़ कर कालीघाट पुलिस के हवाले कर दिया था। सीएम की सुरक्षा में लापरवाही को गंभीरता से लिया गया था।
बताते चलें कि साल 2021 में ममता बनर्जी नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान घायल हो गईं थीं। उनके पैर में चोट आई थी। उन्हें कोलकाता के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ममता का आरोप था कि उन पर कुछ लोगों ने हमला किया, उन्हें कार में धक्का दिया और फिर जबरन दरवाजा बंद करने की कोशिश की। यह घटना जिस दुकान के सामने हुई, उसके मालिक निमाई मैती ने दावा किया था कि भीड़ ममता बनर्जी की ओर बढ़ी थी। जैसे-जैसे लोग आगे बढ़े, ममता बनर्जी का पैर कार के दरवाजे से टकरा गया और वह चोटिल हो गईं
बता दें कि हाल ही में पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव हुए हैं। राज्य में बड़े स्तर पर हिंसा हुई है, जिसमें सबसे ज्यादा टीएमसी कार्यकर्ताओं की मौत हुई है। हालांकि, पंचायत चुनाव में टीएमसी ने बड़ी जीत हासिल की है।
गौरतलब है कि ममता बनर्जी को जेड प्लस सुरक्षा मिली है। उनके साथ 18 गाड़ियों का काफिला रहता है। एक एडवांस पायलट कार रहती है। प्रधान सुरक्षाकर्मी की गाड़ी रहती है, फिर 3 एस्कॉर्ट कार, इंटरसेप्शन की दो गाड़ियां, फिर महिला पुलिस (लेडी कॉन्टिंजेंट) और एम्बुलेंस होती है। बाद में तीन और सुरक्षाकर्मियों की गाड़ियां होती हैं। टेल कार और स्पेयर इंटरसेप्शन कार भी सुरक्षा घेरे में रहती है।

Latest News