Tuesday, November 28, 2023

बिजनौर: नशे में टल्ली होकर डॉक्टर पहुंचा अस्पताल

Must read

कार्तिक पूर्णिमा महोत्सव: आर्यम गुरुदेव ने किया भगवान शंकर आश्रम मसूरी की स्विट्ज़रलैंड शाखा का विधिवत उदघाटन

मसूरी। आर्यम इंटरनेशनल फाउंडेशन, भारत के तत्त्वावधान में स्विट्ज़रलैंड स्थित आश्रम का आज स्वयं की भूमि पर विधिवत श्री गणेश किया गया। कार्तिक पूर्णिमा...

नगर पंचायत की जमीन पर अवैध कब्जा करने वालो के खिलाफ चलेगा अभियान: चेयरमैन डा.आबिद हुसैन

सवांददाता, अजय खत्री जानसठ। नगर पंचायत की जमीन पर अवैध कब्जा करने वालों की कुंडली तैयार करानी शुरू कर दी है। सरकारी जमीन पर अवैध...

जानसठ नगर पंचायत की बोर्ड बैठक हुई आयोजित

सवांददाता, अजय खत्री जानसठ। नगर पंचायत बोर्ड की बैठक अध्यक्ष डा.आबिद हुसैन की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बोर्ड बैठक में नगर के विकास कार्यों...

कर्ज मुक्त होना है तो उठाएं ओटीएस योजना का लाभ: एसडीओ रवि कुमार प्रजापति

विद्युत विभाग की वन टाइम सेटलमेंट (ओटीएस) योजना को लेकर उपभोक्ताओं में नजर आ रहा है उत्साह धड़ाधड़ हो रहे पंजीकरण सवांददाता, अजय खत्री...
  • टेबल पर ही बोतल रखकर शुरू हो गए दिनदहाड़े
  • सीएमओ ने कही कार्रवाई की बात

बिजनौर। समीपुर अस्पताल के चिकित्सा अधिकारी की कार्यप्रणाली विभाग के लिए जी का जंजाल बन गई है। एक महीने की छुट्टी के बाद डॉक्टर साहब अस्पताल तो पहुंचे, लेकिन नशे में टल्ली होकर। यही नहीं मेज पर ही दिनदहाड़े शराब की बोतल रखकर महफ़िल भी जमा डाली। उन्हें इस बात से कतई सरोकार न था कि इलाज के लिए आने वाले मरीजों का क्या होगा। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार नजीबाबाद अंतर्गत समीपुर अस्पताल के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधिकारी कृष्ण गोपाल तिवारी लगभग एक माह के अवकाश के बाद शुक्रवार को शराब की बोतल के साथ अस्पताल पहुंचे। डा.गोपाल कृष्ण तिवारी अपने टेबल पर शराब की बोतल रखकर मदिरा प्रेम में ऐसे डूबे कि उन्हें अपना भी होश नहीं रहा और पास में ही बेड पर लेट गए। काफी देर तक स्टाफ उन्हें होश में लाने में लगा रहा, लेकिन कोई कामयाबी नहीं मिली। कुछ मीडिया कर्मियों के मौके पर पहुंचने पर स्टाफ में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में स्टाफ ने चिकित्सक अधिकारी को स्ट्रेचर से कमरे तक पहुंचाया। मीडिया कर्मियों ने मामले की जानकारी सीएमओ व स्थानीय अधिकारियों को भी दी। यही नहीं शनिवार को भी डॉक्टर साहब नशे की हालत में अस्पताल पहुंचे। प्रभारी के नशे की हालत में रहने से मरीज भी परेशान नजर आए। उधर स्वास्थ्य व्यवस्थाएं भी बाधित रहीं।
इस संबंध में सीएमओ डा.विजय गोयल का कहना है कि यह मामला संज्ञान में आ चुका है। चिकित्सक के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। उन्हें अवकाश पर भेज दिया गया है।

Latest News